Dil me na jaane kaise tere liye itni jagah ban gae

दिल मे ना जाने कैसे तेरे लिए इतनी जगह बन गई,
तेरे मन की हर छोटी सी चाह मेरे जीने की वजह बन गई |

 

Read More Love Shayari 

Leave a Reply