Sad Shayari

Befawa Zamana Hai Aitbaar Mat Karna

Befawa Zamana Hai Aitbaar Mat Karna
Doston Par Bhi Apne Dil Nisar Mat Karna
Milna Doston Se Apne Begaraz Hokar Tum
Dosti Ke Daman Ko Tar-Tar Mat Karna
Dil Ki Baat Logon Ke Lab Par Aa Hi Jaati Hai
Tum Kisi Ko Bhi Apna Raazdaar Mat Karna
Aarzoo Mein Jine Ki Maut Ko Bhula Baitho
Zindagi Se Tum Hargiz Itna Pyar Mat Karna

Read More Life Shayari 

Zakham Ban Jane Ki Aadat Hai…

जख्म बन जानेँ की आदत है उसकी,
रुला कर मुस्कुरानेँ की आदत है उसकी,
मिलेगेँ कभी तोँ खुब रूलायेँ उसको,
सुना है रोतेँ हूऐ लिपट जाने की आदत है उसकी.

Kherat Main Mili Hui Khushi …

खैरात में मिली हुई खुशी हमे पसंद नही है,
क्यूंकि हम गम में भी नवाब की तरह जीते है

 

Read More Hindi Shayari 

Aadhi Se Jyada …

आधी से ज्यादा शबे-ग़म काट चुका हूँ,
अब भी अगर आ जाओ तो ये रात बड़ी है।

 

Read More Sad Shayari 

Mat Puch Zindagi Kese Gujarti…

मत पूछ ज़िन्दगी कैसे गुजरती है तन्हाई में,
आँखों से बरसते हैं आँसू उनकी जुदाई में,
न जाने किस जुर्म की सजा मिली है मुझे,
बहुत रोता है दिल मेरा उनकी बेवफाई में।

 

Read More Sad Shayari